2 Lines Shayari

by:

LoveShayari

अपनी मोहब्बत पे फ़क़्त इतना यक़ीन है …
मेरी वफ़ायें तुझे किसी और का होने नहीं देंगी …

Apni Mohabbat Pe Faqt Itna Yaqin Hai…
Meri Wafaen Tujhe Kisi or Ka Hone Nahi Dengi…
सब ख़सारों को जमा कर के ये हासिल निकला ,
दिल-ऐ-नादान की कोई बात ना मानी जाये …!!!

Sab Khasaaron ko Jama Kar Ke Ye Haasil Niklaa,
Dil-e-Nadaan Ki Koi Baat na Maani Jaaye……!!
मैं तो बिक जाऊं तेरे नाम पे मौत की तरह वासी ,
तू कभी ख़रीदार तो बन के आ ज़िन्दगी के बाजार में !!!

Main to bik jaun tere naam pe mout ki tarha wasi,
Tu kabhi kharidar to ban ke aa zindagi ke Bazaar mein !!!
उमर-ऐ-दराज़ मांग के लाए थे चार दिन,
दो आरज़ू में कट गए…दो इंतज़ार में…

Umar-e-daraz mang k laye the char din,
Do arzoo me kat gaye…do intezar me…
एक तमन्ना सी है इस मायूस दिल की…
काश…आज आंसुओं के साथ हर ख्वाब भी बह जाये …

Ek tamanna si hai iss maayoos dil ki…
Kashh…Aaj aansuon ke sath har khwaab bhi beh jaye…
माना के तेरा वक़्त क़ीमती है, ख़ास है ,
हम भी नायाब है ये तूने ही तो कहा था …!!!

Mana k tera waqt Qeemti hai, khaas hai,
Hum bhi naayab hai ye tune hi to kaha tha…
अभी तो चंद लफ़्ज़ों में समेटा है तुझे मैंने ,
अभी तो मेरी किताबों में तेरी तफ़्सीर बाक़ी है …

Aвнι Tσ Cнαη∂ Lαƒzση Mє Sαмαιтα Hαι Tυנнє Mєιηє,
Aвнι Tσ Mєяι Kιтαвση Mє Tєяι Tαƒѕєєя Bααqι Hαι…….
उसने कहा कोनसा तोहफा मैं तुम्हे दूँ …
मैंने कहा वही शाम जो अब तक उधार है … ♥

Usne Kaha Konsa Tohfa Mein Tumhe Dun…
Mene Kaha Wohi Shaam Jo Ab Tak Udhaar Hai . . ♥
हमें याद आ आ कर इतना बेचैन ना करो,
एक ये ही सितम काफी है कि साथ नहीं हो तुम ।

Hamein Yaad Aa Aa Kar Itna Be-Chain Na Karo,
Ek Ye Hi Sitam Kafi Hai Ki Sath Nahi Ho Tum.
मै उस से हमेशा ये कहती हू कि मेरी एक ख्वाहिश है,
मै कुछ ऐसे पहचानी जाऊँ , तेरे नाम से जानी जाऊँ…..

Mai Us se Hamesha Ye Kehti Hu Ki Meri Ek Khwahish Hai,
Mai Kuch Aise Pehchani Jaun, Tere Naam Se Jani Jaun…..

Previous Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *