2 Lines Shayari

by:

LoveShayari

दिल की क़ीमत तो मोहब्बत के सिवा कुछ ना थी ,
जो भी मिले सूरत के खरीदार मिले …

Dil ki qeemat to mohabbat ke siwa kuch na thi,
Jo bhi mile surat ke khareedar miley…
मैं तुझे क्यों वास्ता दूँ वापिस लौट आने का,
आखिर तू भी तो ये जानता था के मुझे तेरे बिन जीना नहीं आता ….

Main tujhe kyo waasta dun waapis laut aane ka,
Aakhir tu bhi to ye janta tha ke mujhe tere bin jeena nahi aata…..
चलती हैं दिल के शहर में यूं ही हुकूमतें ♥
बस जो भी उसने कह दिया… दस्तूर हो गया ♥

Chalti Hain Dil K Sheher Me yunhii Hukoomatein ♥
Bas Jo Bhi Uss’ne Keh Diya.. Dastoor Ho Gaya ♥
जो शख्स तुम्हारी निगाहों से तुम्हारी ज़रूरत को समझ नहीं सकता ,
उस से कुछ मांग कर खुद को शर्मिंदा ना करो ….

Jo Shakhs Tumhari Nigahon Se Tumhari Zarurat Ko Samajh Nahi Sakta…
Us se Kuch Mang Kar Khud Ko Sharminda Na Karo…
अब क्या किसी को चाहें….कि हमको तो इन दिनों
खुद अपने आप से भी मोहब्बत नहीं रही

Ab kya kisi ko chahein…ki humko to in dino
khud apne aap se bhi mohabbat nahi rahi
सुना है मोहब्बत का शौक़ नहीं तुम्हें,
मगर बरबाद तुम कमाल करते हो।

Suna Hai Mohabbat Ka Shoq Nahi Tumhein.
Magar Barbad Tum Kamaal Karte Ho.
ये फ़िक़र..!! ये अदावतें..!! ये अंदाज़-ऐ-गुफ्तगू …!!!
संभल जाओ तुम, तुम्हें मोहब्बत हो रही है …!!!

Yeh fikar..!! yeh adawatain..!! yeh andaz-e-guftagu…!!!
Sambhal jao tum,tumhein mohobbat ho rahi hai..!!!
जब भी दिल करता है , मेरे पास चली आती हो……..!!!
ऐ “तन्हाई” क्या तेरा भी मेरे सिवा कोई नहीं…….???

Jab bhi dil karta hai,mere pas chali aati ho…………!!
Aei “TANHAYEE” kya tera bhi mere siwa koi nahi………??
तरस जाओगे हमारे लबों से सुनने को एक एक लफ्ज़,
प्यार की बात तो क्या हम शिकायत भी ना करेंगे ।

Taras jaoge humare labon se sunne ko ek ek lafz,
Pyaar ki baat toh kya hum shikayat bhi na karenge.
उनके जाने के बाद सब कुछ ठीक है…!!!
बस पहले जहां दिल हुआ करता था वहां अब दर्द रहता है…!!!

Unke jaane ke baad sab kuch theek hai…!!
bas pehle jaha dil hua karta tha wahan ab dard rehta hai…!!!!!

Previous

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *