Best Gulzar Shayari And Quotes Collection

by:

FriendshipLoveMotivationalShayari

Heart Touching Shayari

देख दर्द किसी और का आह दिल से निकल जाती है,
बस इतनी सी बात तो आदमी को इंसान बनाती है!

Dekh dard kisi aur ka aah dil se nikal jaati hai,
Bas itni si baat to aadmi ko insaan banaati hai!
कौन कहता है हम झूंठ नहीं बोलते,
एक बार खैरियत पुछ कर तो देखिये!

Kaun kahata hai hum jhoonth nahin bolte,
Ek baar khairiyat poochh kar to dekhiye!
Gulzar Shayari - Kaun kahata hai hum jhoonth nahin bolte...
झूठ कहूँ तो लफ़्ज़ों का दम घुटता है
सच कहूं तो लोग खफा हो जाते हैं…

Jhooth kahun to lafzon ka dum ghutata hai
Sach kahun to log khafa ho jaate hain…
शिकायत मौत से नहीं साहब अपनों से थी
ज़रा सी आँखें क्या बंद हुई कब्र खोदने लगे

Shiqayat maut se nahin sahab apno se thi
Zara si aankhein kya band hui kabra khodne lage
Heart touching shayari by Gulzar - Shiqayat maut se nahin sahab apno se thi
सहमा सहमा डरा सा रहता है
जाने क्यों जी भरा सा रहता है

Sehma sehma dara sa rehta hai
Jane kyon jee bhara sa rehta hai
बेहिसाब हसरतें ना पालिये
जो मिला है उसे सम्भालिये…

Behisab hasratein naa paliye
Jo mila hai use sambhaliye…
ख़ामोशी का हासिल भी इक लम्बी सी ख़ामोशी थी
उन की बात सुनी भी हम ने अपनी बात सुनाई भी

Khamoshi ka haasil bhi ik lambi si khamoshi thi
Un ki baat suni bhi hum ne apni baat sunayi bhi
Khamoshi ka haasil bhi ik lambi si khamoshi thi...
बहुत अंदर तक जला देती हैं…
वो शिकायतें तो बयां नहीं होती…

Bahut andar tak jala deti hain…
Wo shikayatein to bayan nahin hoti…
समझने वाले तो ख़ामोशी भी समझ लेते हैं
न समझने वाले जज़्बातों का भी मज़ाक बना देते हैं

Samajhne wale to khamoshi bhi samajh lete hain
Na samajhne wale jazbaton ka bhi mazaak bana dete hain
तेरे उतारे हुए दिन पहन के आज भी मैं…
कई रोज़ काट लेता हूँ…!!!

Tere utare huye din pehan ke aaj bhi main…
Kai roz kaat leta hoon…!!!

Prev Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *