500+ Love Shayari To Express Your True Emotions.

by:

For HerFor HimLoveShayari

Romantic Love Shayari

Romantic Love Shayari is an effective way to express your love and emotions to your crush or partner. Share these lines with your love and see the magic…

184

तेरी हर अदा मोहब्बत सी लगती है
एक पल की जुदाई सदियों सी लगती है

पहले न सोचा था अब सोचने लगी हूँ
ज़िन्दगी के हर लम्हें में तेरी ज़रूरत सी लगती है

Teri Har Ada Mohabbat Si Lagti Hai
Ek Pal Ki Judai Sadiyon Si Lagti Hai

Pehle Na Socha Tha Ab Sochne Lagi Hun
Zindagi Ke Har Lamhe Mein Teri Zarurat Si Lagti Hai
Romantic Love shayari - Teri har ada mohabbat si lagti hai...

185

वह मेरे सीने पे सर रख के सोई थी बेखबर
मैंने धड़कन ही रोक ली कहीं उसकी नींद ना टूट जाये.

Woh Mere Seene Pe Sar Rakh Ke Soyi Thi Bekhabar
Maine Dharkan Hi Rok Li Kahin Uski Neend Na Toot Jaye.

186

ये झूठ है कि मोहब्बत किसी को बर्बाद करती है…
लोग खुद ही बर्बाद हो जाते हैं मोहब्बत करते करते…! ♥

Ye Jhoot Hai Ki Mohabbat Kisi Ko Barbad Karti Hai…
Log Khud Hi Barbad Ho Jate Hain Mohabbat Krte Krte…! ♥
Romantic Love shayari - ye jhoot hai ki mohabbat kisi ko barbad karti hai...

187

सारे चिराग़ बुझा डाले, इस ख़याल से मैंने___!!
मेरे यार की याद में रात भर, मेरे सिवा कोई और क्यों जागे___!!

Saare Chiraag Bujha Daaley, Is Khayaal Se Maine___!!
Mere Yaar Ki Yaad Mein Raat Bhar, Mere Siwa Koi Aur Kyon Jaage___!!

188

किस किस से मुहब्बत के वादे किये हैं तूने
हर रोज़ एक नया शख्स तेरा नाम पूछता है.


Kis kis se mohabbat ke vaade kiye hain tune
Har roz ek naya shaqs tera naam poochta hai.
Romantic Love shayari - kis kis se mohabbat ke vaade kiye hain tune...

189

हम जैसे आशिक़ों ने दिया है तुझे मुकाम गज़ब का___!!
वरना ऐ इश्क तेरी दो कौड़ी की औकात नहीं___!!

Hum jaise ashiqon ne diya hai tujhe mukaam gazab ka___!!
Warna ae ishq teri do kaudi ki aukaat nahi___!!

190

तेरे दोस्ती में एक नशा है,
तभी तो यह सारी दुनिया हमसे खफा है,
ना करो हमसे इतनी दोस्ती,
की दिल ही हमसे पूछे तेरी धड़कन कहाँ है…

Tere dosti me ek nasha hai,
Tabhi to yeh saari duniya humse khafa hai,
Naa karo humse itni dosti,
Ki dil hi humse puchhe teri dhadkan kahan hai…

191

मोहब्बत किसी ऐसे शख्स की तलाश नहीं करती जिस के साथ रहा जाये… !!♥!!
मोहब्बत तो ऐसे शख्स की तलाश करती है जिस के बग़ैर न रहा जाये… !!♥!!

Mohabbat Kisi Aise Shakhs Ki Talash Nahi Karti Jis Ke Sath Raha Jaye… !!♥!!
Mohabbat To Aise Shakhs Ki Talash Karti Hai Jis Ke Baghair Na Raha Jaye… !!♥!!

192

जो चीज़ मेरी है उसे कोई और न देखे,
इंसान भी मोहब्बत मैं, बच्चों की तरह सोचता है.

Jo cheez meri hai use koi aur na dekhe,
Insan bhi mohhabat main, bachhon ki tarah sochta hai. ♥

193

खतरा है डूब जाने का,
झांकिए मत हुज़ूर इन आँखों में….!

Khatra hai doob jane ka,
Jhankiye mat huzoor in ankhon mein….!

194

♥ मोहब्बत फ़र्ज़ जैसी है
निभाना सीख जाओगे

दिलो पे क़र्ज़ जैसी है
चुकाना सीख जाओगे

लबों पे फूल जैसी है
खिलाना सीख जाओगे

नज़र में आग जैसी है
लगाना सीख जाओगे

तुम तक फ़ासला जो है
मिटाना सीख जाओगे

कभी जो दिल में आ बैठे
ज़माना भूल जाओगे ♥

♥ Mohabbat Farz Jaisi Hai
Nibhaana Seekh Jaoge

Dilo Pe Qarz Jaisi Hai
Chukaana Seekh Jaoge

Labon Pe Phool Jaisi Hai
Khilaana Seekh Jaoge

Nazar Mein Aag Jaisi Hai
Lagaana Seekh Jaoge

Tum Tak Faasla Jo Hai
Mitaana Seekh Jaoge

Kabhi Jo Dil Mein Aa Beithe
Zamaana Bhool Jaoge ♥

195

तेरे पास ही होगा ज़रा इत्मीनान से देख….
मेरे सीने से “दिल” आखिर गया कहाँ…!!!

Tere Paas Hi Hoga Zara itmeenan Se Dekh….
Mere Seene Se “DIL” Aakhir Gaya kahan…!!!
Romantic Love shayari - tere paas hi hoga zara itmeenan se dekh...

196

बस यही सोचकर तुझसे मोहब्बत करते हैं
की मेरा तो कोई नहीं मगर तेरा तो कोई हो.

Bas yahi sochkar tujhse mohabbat karte hain
Ki mera to koi nahi magar tera to koi ho.

197

तेरी मोहब्बत कि तलब थी तो हाथ फैला दिए वरना…
हम तो अपनी ज़िन्दगी के लिए भी कभी दुआ नहीं करते…

Teri Mohabbat Ki Talab Thi To Hath Phela Diye Warna…
Hum To Apni Zindagi Ke Liye Bhi Kabhi Dua Nahi Karte…

198

♥ अक्सर जब हम उनको याद करते हैं….
अपने रब से यही फ़रियाद करते हैं…
उम्र हमारी भी लग जाये उनको..
क्योंकि हम उनको खुद से ज़्यादा प्यार करते हैं… ♥

♥ Aksar jab hum unko yaad karte hain….
Apne rab se yahi fariyaad karte hain…
Umar humari bhi lag jaye unko..
Kyoki hum unko khud se zyada pyar karte hain…♥

199

सो जाओ कि तुम्हारी ऑंखें कहीं सुर्ख़ न हो जाएँ नींद से ….
हमारा क्या हम तो लोगों से वफ़ा करने की सजा काट रहे हैं …..

So jao Ke tumhari ankhen kahin surkh na ho jayen neend se ….
Hamara kya hum to logo se wafa karne ki saza kaat rahe hain …..

200

ऐसा करते हैं, के तुम ही पे मरते है,,
एक दिन तो यूँ भी मर ही जाना है…!

Aisa karte hain, ke tum hi pe marte hai,,
Ek din to yun bhi mar hi jana hai…!

201

लोग पढ़ लेते हैं मेरी आँखों में दिल की बात,
अब मुझसे तेरे इश्क़ की हिफाज़त नहीं होती…

Log padh lete hain meri aankhon me dil ki bat,
Ab mujhse tere ISHQ ki hifazat nahi hoti…

202

हुई है शाम तो आँखों में बस गया फिर तू
कहाँ गया है मेरे शहर के मुसाफिर तू…. ??

Hui hai shaam to aankhon mein bas gaya phir tu
Kahaan gaya hai mere shahar ke musafir tu…. ??

203

नाम तो लिख दू पत्थरो पर उसका, मगर फिर ख्याल आता है…
मासूम है वो कहीं बदनाम ना हो जाये………

Naam to likh du pattharo par uska, magar phir khayaal aata h…
Masoom hai wo kahin badnaam na ho jaye……….

204

या तो तुम्हे जादू आता है या किसी इल्म मे माहिर हो तुम!!!
हमारे दिल पे कब्ज़ा करना किसी और के बस की बात न थी ..!!

Ya To Tumhe Jaadu Aata Hai Ya Kisi Ilm Mai Mahir Ho Tum!!!
Humare Dil Pe Qabza Karna Kisi Aur Ke bas Ki baat Na thi ..!!
Romantic Love shayari - ya to tumhe jaadu aata hai....

205

कितना जानता होगा, वो शख्स मेरे बारे में____!!
मेरे मुस्कुराने पर जिसने पूछ लिया तुम उदास क्यों हो____!!

Kitna jaanta hoga, wo shaks mere baare mein____!!
Mere muskurane par jisne puch liya tum udas kyon ho____!!

206

♥ यह वादा करो की मुझे न
भुलाओगे कभी ♥
.
♥ नाम अपने दिल से मेरा न
मिटाओगे कभी ♥
.
♥ खुद तुम्ही ने जो ख्वाब
बसाये हैं आँखों में ♥
.
♥ कसम मेरी तुम्हें, न जलाओगे
कभी… ♥

♥ γєн vααđα kαяo kί мυjнє иα
внυlαoġє kαвнί♥
.
♥ иααм αρиє đίl sє мєяα иα
мίтαoġє kαвнί♥
.
♥ kнυđ тυмнί иє jo kнωαв
вαsαγє нαίи ααиkнoи мєίи♥
.
♥ kαsαм мєяί тυмнєίи, иα jαlαoġє
kαвнί…♥

207

मेरे सब्र का इम्तेहान है शायद…
सामने एक रास्ता तेरे घर को जाता है..

Mere sabr ka imtehaan hai shayad…
samne ek rasta tere ghar ko jata hai..

208

उसके इज़हार का इंतजार
है मुझे,
जाने क्यों उससे इतना प्यार है मुझे…..
ए खुदा कब आयेगा वो हसीं पल
जब वो कहेगी,
ए सनम :-
♥ _ तुमसे प्यार है मुझे _ ♥

Uske Izhar Ka Intejar
Hai Mujhe,
Jaane Kyu Usse Itna Pyar Hai Mujhe…..
Aye Khuda Kab Aayega Wo Hasin Pal
Jab Wo Kahegi,
Aye Sanam :-
♥ _ Tumse Pyar Hai Mujhe _ ♥

209

तुझे बर्बाद कर दूंगी, अभी भी लौट जा वापिस,
मुझे क़ातिल भी कहते हैं, मोहब्बत नाम है मेरा…!

Tujhe Barbaad Kar Dungi, Abhi Bhi Laut Jaa Wapis,
Mujhe Qatil Bhi Kehte Hain, Mohabbat Naam Hai Mera…!

210

काश क तुझे वक़्त के सेहरा में लगे प्यास
और तू तड़प के मांगे मुझे पानी की तरह…

Kaash k tujhe waqt ke sehra mein lage pyaas
Or tu tadap ke maange mujhe paani ki tarha…

211

दिल दुखाया करो इजाजत है ♥♥
छोड़ जाने की बात मत करना ♥♥

DiL DukhaYa kaRo iJaZat hE ♥♥
Chhod jaNe ki BaaT mat kaRna ♥♥
Romantic Love shayari - dil dukhaya karo izazat hai...

212

इक दूजे को देर से समझा देर से यारी की,,
हम दोनों ने एक मुहब्बत बारी बारी की 🙂

Ik dooje ko der se smjha der se yaari ki,,
hum dono ne ek Muhabbat bari bari ki 🙂

213

आज हसीं रात है
लेकिन तुम बिन उदास है

हम जागते रहेंगे सारी रात
अगर साथ तुम्हारा साथ है

तुम नहीं चाहते हमें
ये एक अलग सी बात है

क्यों की ये चाहत नसीब
नसीब की बात है…..

Aj haseen Raat hai
Lekin Tum Bin Udas hai

Ham jagte Rahenge Sari Raat
Agar Sath Tumhara Sath Hai

Tum Nahi Chahte Humein
ye ak Alag si Baat Hai

Kyun Ki ye Chahat Naseeb
Naseeb Ki Baat Hai…..

214

“अन-कही” की अलग अज़ीयत है ,
और “कही” का अज़ाब मत पूछो ..!!

“An-Kahi” Ki Alag Aziyat Hay ,
Or “Kahi” Ka Azaab Mat Pocho ..!!

215

मोहब्बत आज़मानी हो तो बस इतना ही काफी है
ज़रा सा रूठ कर देखो मानाने कौन आता है

Mohabbat Aazmani Ho To Bas Itna Hi Kaafi Hai
Zara Sa Rooth Kar Dekho Manane Kon Aata Hai

216

चलो एक और दुनिया में, तुम्हारे
साथ चलते हैं ♥

जहाँ हालात कुछ भी हो, मगर
हम साथ रहते हो ♥

जहां मौसम कोई भी हो, जुदाई का
न हो लेकिन ♥

जहाँ चाँद भी तुम हो जहाँ
सूरज, हवा, रौशनी, खुशबुओं का
रंग तुमसे हो ♥

जहाँ पर दिल धड़कने का, हर एक
एहसास तुम से हो ♥

जहां पर मेरे जीने की सारी आस
तुमसे हो ♥

चलो एक और दुनिया में, तुम्हारे
साथ चलते हैं ♥

Chalo EK Aur Duniya Mein, Tumhare
Saath Chalte Hain ♥

Jahan Haalaat Kuch Bhi Ho, Magar
Hum Saath Rehte Ho ♥

Jahan Mausam Koi Bhi Ho, Judaai Ka
Na Ho Lekin ♥

Jahan Chand Bhi Tum Ho Jahan
Suraj, Hawa, Roshni, Khusbuon Ka
Rang Tumse Ho ♥

Jahan Par Dil Dhadakne Ka, Har Ek Ehsaas Tum Se Ho ♥

Jahaan Par Mere Jeene Ki Saari Aas
Tumse Ho ♥

Chalo Ek Aur Duniya Mein, Tumhare
Saath Chalte Hain ♥

217

ज़रा सा इश्क़ का भी उस में दखल है वरना,
कोई हसीं मुकमल हसीं नहीं होता…..!!!

Zara sa Ishq ka bhi us me dakhal hai warna,
Koi haseen mukamal haseen nahin hota…..!!!

218

मुझ से मत पूछ मेरे महबूब की सादगी का
अंदाज़
नज़रें भी मुझ पे थीं और पर्दा भी मुझ
से था ………!

Mujh Se Mat Pooch Mere Mehboob Ki Saadgi Ka
Andaaz
Nazrain Bhi Mujh Pe Thin Aur Parda Bhi Mujh
Se Tha ………!

219

उसकी याद कुछ इस तरह मेरे दिल से लिपटी है…
के जैसे फूल पे किसी तितली को नींद आ जाए…!!!

Uski Yaad Kuch Is Tarah Mere Dil Se Lipti Hai…
Ke Jaise Phool Pe Kisi Titli Ko Neend Aa Jaaye…!!!

220

खफा न हो के तेरा दीदार ही कुछ ऐसा है,
मैं तुझ से प्यार न करता तो और क्या करता…..

Khafa na ho k tera deedaar hi kuch aisa hai,
MAIN tujh se pyar na karta to aur kya karta…..
Romantic Love shayari - khafa na ho ke tera deedar hi kuch aisa hai...

221

ज़रा उदास हूँ लेकिन ज़रा मसरूर भी हूँ
तुम्हारे पास हूँ शायद, शायद दूर भी हूँ
यूँ पथरीले रास्तों पे चलना शौक नहीं मेरा
कुछ मामला चाहत का है कुछ मजबूर भी हूँ
मोहब्बत हो गई तुम से बस इतनी खता है मेरी
माना कि मुजरिम हूँ मगर बेक़सूर भी हूँ

Zara udas hoon lekin zara masroor bhi hoon
Tumharay paas hoon shayad, shayad door bhi hoon
Yun pathriley raston pey chalna shouq nahi mera
Kuch mamla chahat ka hai kuch majboor bhi hoon
Mohabbat ho gai tum sey bas itni khata hai meri
Maana ki mujrim hoon magar bekasoor bhi hoon

222

किताबों की तरह है वो भी…
अल्फ़ाज़ से भरपूर, मगर……खामोश!!

Kitaabon ki tarah hai wo bhi…
Alfaaaaz se bharpoor, magar……Khamosh!!

223

• तुम दिल से हमें यूँ पुकारा ना करो,
यूँ तुम हमें इशारा ना करो,
दूर हैं तुमसे ये मजबूरी है हमारी,
तुम तन्हाइयों में यूं तड़पाया न करो •

• Tum dil se hamein yun pukara na karo,
Yun tum hamein ishara na karo,
Door hain tumse ye majburi hai hamari,
Tum tanhaiyon mein yun tadpaya na karo •

224

तेरी दोस्ती में खुद को महफूज़ मानते हैं,
हम दोस्तों में तुम्हे सबसे अज़ीज़ मानते हैं.
तेरी दोस्ती के साये में ज़िंदा हैं,
हम तो तुझे खुदा का दिया हुआ ताबीज़ मानते हैं..

Teri dosti mein khud ko mehfooz maante hain,
Hum doston mein tumhe sabse azeez maante hain.
Teri dosti ke saaye mein zinda hain,
Hum to tujhe khuda ka diya hua tabeez maante hain..

225

मुसलसल इश्क़ की बाज़ी न ही खेलो तो बेहतर है…,
मोहब्बत आग ऐसी है जला कर राख कर देगी…!!

Musalsal IshQ ki bazi na hi khelo to behtar hai…,
Mohabbat Aag aisi hai jala kar raakh kar degi…!!

226

♥ღ♥अगर मुझ से उल्फ़त नहीं तो रोकते क्यू हो♥ღ♥………….
♥ღ♥तन्हाई में मेरे बारे मैं सोचते क्यू हो♥ღ♥………..
♥ღ♥अगर मंज़िलें जुदा हैं तो जाने दो मुझे♥ღ♥…………..

♥ღ♥Agar Mujh Se Ulfat Nhi To Rokte Q Ho♥ღ♥………….
♥ღ♥Tanhai Mein Mere Baare Main Sochte Q Ho♥ღ♥………..
♥ღ♥Agar Manzilain Juda Hain To Janay Do Mujhe♥ღ♥…………..

227

हमसफ़र बना लो
हम साथ निभाएंगे
वो नहीं जो दिल लगा के
छोड़ जायेंगे

इंतज़ार करते रहेंगे
ज़िंदगी भर
तू आये न आये
हम वादा निभाएंगे..♥♥

Humsafar Bana Lo
Hum Sath Nibhayenge
Wo Nhi Jo DiL Laga Ke
Chhod Jayenge

Intezar Krte Rahenge
Zindgi Bhar
Tu Aaye Na Aaye
Hm Vaada Nibhayenge..♥♥

228

{♥}__अक्सर वो मुझसे पूछती है….!!!♥♥♥
{♥}__क्या ज़िंदगी, क्या मौत है….!!!♥♥♥
{♥}__मै खामोश रहता हू और दिल ही दिल मै कहता हु….!!!♥♥♥
{♥}__तुझे पा लिया तो ज़िंदगी तुझे खो दिया तो मौत है….!!!♥♥♥

{♥}__Aksar Wo Mujhse Puchtii Hai….!!!♥♥♥
{♥}__Kya Zindgii, Kya Mout Hai….!!!♥♥♥
{♥}__Mai Khamosh Raheta Hu Or Dil Hi Dil Mai Kahta Hu….!!!♥♥♥
{♥}__Tujhe Pa Liya To Zindgi Tujhe Kho Diya To Mout Hai….!!!♥♥♥

229

♥ ♥ ♥ हर सपना ख़ुशी पाने से पूरा नहीं होता,
कोई किसी के बिना अधूरा नहीं होता.
जो चाँद रोशन करता है रात भर सब को,
हर रात वह भी तो पूरा नहीं होता…..! ♥ ♥ ♥

♥ ♥ ♥ Har Sapna Khushi Pane Se Pura Nahi Hota,
Koi Kisi Ke Bina Adhura Nahi Hota.
Jo Chand Roshan Karta Hai Rat Bhar Sab Ko,
Har Raat Woh Bhi To Poora Nahi Hota…..!♥ ♥ ♥

230

वैसे तो तेरी ना में भी मैंने ढूंढ ली अपनी ख़ुशी
तू जो गर हाँ कहे तो बात होगी और ही…

Waise to teri naa me bhi mene dhoondh li apni khushi
tu jo gar haan kahe to baat hogi aur hi…

231

प्यार करना तुमने सिखाया,
प्यार पे यक़ीन करना तुमने सिखाया,
सपने सजाना तुमने सिखाया,
बस तुम्हारे बिना जीना नहीं
सिखाया……

Pyaar Karna Tumne Sikhaya,
Pyaar Pe Yakeen Karna Tumne Sikhaya,
Sapne Sajana Tumne Sikhaya,
Bas Tumhare Bina Jeena Nahi
Sikhaya……

232

जब जब आता है ये बरसात का मौसम
“““““““““““““““`
♥ तेरी ♥ याद होती है साथ हमदम
“““““““““““““““
इस मौसम मे नहीं करेंगे याद ♥ तुझे ♥
“““““““““““““““““
ये सोचा है हमने
““““““““`
पर फिर सोचा की बारिश को कैसे रोक पायेंगे हम
“““““““““““““““““““““`

Jab Jab Aata Hai Ye Barsaat Ka Mausam
“““““““““““““““`
♥ Teri ♥ Yaad Hoti Hai Sath Humdum
“““““““““““““““
Is Mausam Mai Nahi Karenge Yaad ♥ Tujhe ♥
“““““““““““““““““
Ye Socha Hai Humne
““““““““`
Par Phir Socha Ki Baarish Ko Kaise Rok Paayenge Hum
“““““““““““““““““““““`

233

अपने दिल की सुन मजबूरी को इलज़ाम न दे
मुझे याद रख बेशक मेरा नाम न ले
तेरा वहम है की मैं भूला हूँ तुझे
मेरी ऐसी कोई साँस नहीं जो तेरा नाम न ले

Apne dil ki sun majboori ko ilzam na de
Mujhe yad rakh beshak mera nam na le
Tera veham hai ki main bhoola hun tujhe
Meri aisi koi saans nahi jo tera naam na le…..

234

♥ ♥…..मेरी चाहतें तुमसे अलग कब हैं
दिल की बातें तुमसे छुपी कब हैं,…..♥ ♥
♥ ♥…..तुम साथ रहो दिल में धड़कन की जगह
फिर ज़िन्दगी को साँसों की ज़रूरत कब है…..♥ ♥

♥ ♥…..Meri Chahatein Tumse Alag Kab Hain
Dil Ki Batain Tumse Chupi Kab Hain,…..♥ ♥
♥ ♥…..Tum Sath Raho Dil Main Dharkan Ki Jaga
Phir Zindagi Ko Sanson Ki Zarorat Kab Hai…..♥ ♥

235

परछाई आपकी हमारे दिल में है,
यादें आपकी हमारी आँखों में है.
कैसे भुलाये हम आपको,
प्यार आपका हमारी साँसों में है. ♥♥))

Parchaee Aapki Humare Dil Me Hai,
Yaade Aapki Humari Aankhon Me Hai.
Kaise Bhulaye Hum Aapko,
Pyar Aapka Humari Saanson Me Hai.♥♥))

236

जब प्यार के एहसास को समझ जाओगे
हर सांस में मेरा ही नाम पाओगे
मेरा प्यार उस वक़्त देगा आवाज़
जब दुनिया की भीड़ में तुम खुद को अकेला पाओगे

Jab pyar k ehsas ko samaj jaoge
Har saans me mera hi naam paoge
Mera pyar uss waqt dega awaz
Jab duniya ki bheed me tum khud ko akela paoge

237

…..आंसू आ जाते है आँखों में रोने से पहले……..
………हर ख्वाब टूट जाता है पूरा होने से पहले……..
……..इश्क़ है गुनाह ये तो समझ गए हम…….
…….काश कोई रोक लेता ये गुनाह होने से पहले……

…..AANSU AA JATE HAI AANKHO ME RONE SE PEHLE……..
………HAR KHWAAB TOOT JATA HAI PURA HONE SE PEHLE……..
……..ISHQ HAI GUNAAH YE TO SAMAJH GAYE HUM…….
…….KASH KOI ROK LETA YE GUNAH HONE SE PEHLE……

238

तुम ज़रा हाथ मेरा थाम के देखो तो सही,..
लोग जल जायेंगे महफ़िल में चिरागों की तरह…

Tum Zara Hath Mera Thaam Ke Dekho to Sahi,..
Log Jal Jayenge Mehfil Mein Chiraghon ki Tarha…
Romantic Love shayari - tum zara hath mera thaam ke dekho to sahi...

239

काश मेरी “ज़िन्दगी” से कोई इस तरह भी “वाक़िफ़” हो…..
मैं “बारिश” में भी रोऊँ तो वो मेरे “आंसू” पहचान ले…..

Kaash Meri “Zindagi” se Koi Is Tarah Bhi “Waaqif” Ho…..
Main “Barish” Mein Bhi Rou To Wo Mere “Aansoo” Pehchan Le…..

240

◘• कल शाम से उनके तस्सवुर का नशा था इतना
के आँखों को नींद आई और दिल ने बुरा मान लिया •◘ —

◘• Kal shaam se unke tassavurr ka nasha tha itna
k aankho ko nind aai or dil ne bura maan liya •◘ —

241

**लोग कहते है तुम क्यों अपने प्यार का इज़हार नहीं करते**
**हमने कहा जो लब्ज़ो में बयां हो जाये**
**सिर्फ उतना हम किसी से प्यार नहीं करते**

**Log kehte hai tum kyun apne pyar ka izhar nahi karte**
**Humne kaha jo labzo me bayan ho jayE**
**sirf utna hum kisi se pyar nahi karte**

242

अपने अपने हौसले, अपने अपने दिल की बात है
चुन लिया हमने तुम्हें, सारा जहाँ रहने दिया ♥

Apne Apne Hosley, Apne Apne Dil Ki Baat Hai
Chun Liya Humne Tumhein, Sara Jahan Rehne Diya ♥
Romantic Love shayari - apne apne hosley, apne apne dil ki baat hai...

243

मंज़ूर हो तो तुम मेरे दिल में रह लो,
मेरे पास बेहतर कोई और घर नहीं..♥

Manzoor ho to tum mere dil mein reh lo,
Mere pass behtar koi aur ghar nahin..♥

Prev Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *